शिक्षण अभिरुचि एवं विधियाँ 5

Congratulations – you have completed शिक्षण अभिरुचि एवं विधियाँ 5. You scored %%SCORE%% out of %%TOTAL%%. Your performance has been rated as %%RATING%%
Your answers are highlighted below.
Question 1

निम्न में से कौन आदर्श मूल्यांकन का मानदण्ड नहीं है

A
विश्वसनीयता
B
विषयानुकूल
C
वस्तुनिष्ठता
D
सम्भाव्यता
Question 1 Explanation: 
आदर्श मूल्यांकन के मानदण्ड – विश्वसनीय, वस्तुनिष्ठ, विषयानुकूल, वैद्यता आदि होते हैं
Question 2

उपचारात्मक शिक्षण किसका अंतिम चरण है?

A
पृच्छा प्रतिमान
B
व्याख्यात्मक शिक्षण
C
निदानात्मक शिक्षण
D
इनमें से कोई नहीं
Question 2 Explanation: 
उपचारात्मक शिक्षण निदानात्मक शिक्षण का अंतिम चरण है
Question 3

निदानात्मक परीक्षण का महत्व है ?

A
शिक्षण में
B
परामर्शन और निर्देशन में
C
उपचारात्मक शिक्षण की व्यवस्था में
D
उपर्युक्त सभी में
Question 3 Explanation: 
निदानात्मक परीक्षण शिक्षण, परामर्शन और निर्देशन, उपचारात्मक शिक्षण की व्यवस्था में सहायक हैं।
Question 4

निम्न में से विद्यार्थियों में आपसी चिंतन को बढ़ाती है?

A
यादश्स्त बढ़ाना
B
अभिव्यक्ति की अस्वतंत्रता
C
व्यवहार परिवर्तन
D
रचनात्मक विचारों का सृजन
Question 4 Explanation: 
समस्याओं के कारण, समाधान की खोज करके रचनात्मक विचारों का विकास होता है।
Question 5

हरबर्ट की पंचपदी में “तुलना” है ?

A
अनिवार्य पद
B
ऐच्छिक पद
C
1 और 2 दोनों
D
इनमें से कोई नहीं
Question 5 Explanation: 
हरबर्ट की पंचपदी में जो 5 पद होते हैं उनमें प्रस्तावना, प्रस्तुतीकरण, तुलना, सामान्य करण एवं प्रयोग नामक अनिवार्य पद हैं।
Question 6

निम्न में से कौन-सा कथन/विकल्प गलत है ?

A
मूल्यांकन की प्रक्रिया सिर्फ विषयवस्तु पर ही केन्द्रित होती
B
मूल्यांकन प्रभावी पाठ्यक्रम निर्माण करने में मदद करता है
C
मूल्यांकन शिक्षण-अधिगम प्रक्रिया में बौद्धिक मार्गदर्शन प्रदान करता है।
D
मूल्यांकन उद्देश्य केन्द्रित होता है
Question 6 Explanation: 
मूल्यांकन वह प्रक्रिया है जिसमें विद्यालय द्वारा बच्चों में होने वाले व्यावहारिक परिवर्तनों के संबंध में सूचना एकत्रित की जाती है ओर उनकी व्याख्या की जाती है। – मूल्यांकन उद्देश्य केन्द्रित होता है न कि विषयवस्तु केन्द्रित।
Question 7

पाश्चात्य या आधुनिक दृष्टिकोण की शिक्षण प्रक्रिया के अन्तर्गत

जॉन.डी.वी. की त्रिमुखी प्रक्रिया है?

A
शिक्षार्थी, पाठ्यक्रम, समाज
B
शिक्षक, शिक्षार्थी, समाज
C
शिक्षक, पाठ्यक्रम, समाज
D
शिक्षक, शिक्षार्थी, पाठ्यक्रम
Question 7 Explanation: 
पाश्चात्य या आधनिक दष्टिकोण की शिक्षण प्रक्रिया के अंतर्गत जॉन. डी. वी. की त्रिमुखी प्रक्रिया में शिक्षक, शिक्षार्थी तथा समाज के बीच अंत: क्रिया होती है।
Question 8

कौनसा एक रूप चिन्तन का काल्पनिक है ?

A
स्वली चिन्तन
B
वास्तविक चिंतन
C
यथार्थ चिन्तन
D
स्वली व यथार्थ दोनों
Question 8 Explanation: 
स्वली चिंतन – यह केवल काल्पनिक होता है तथा इसमें व्यक्ति कार्य नहीं कर पाता, इसलिए इसका परिणाम शून्य होता है
Question 9

भारतीय दृष्टिकोण के अनुसार द्विमुखी शिक्षण प्रक्रिया है?

A
शिक्षक, पाठ्यक्रम
B
शिक्षक, शिक्षार्थी
C
शिक्षक, समाज
D
समाज, शिक्षार्थी
Question 9 Explanation: 
भारतीय दृष्टिकोण के अनुसार द्विमुखी शिक्षण प्रक्रिया में शिक्षक व शिक्षार्थी (अन्त: पुरवासी) का संबंध होता है।
Question 10

निम्न में से दिए गए कथनों में से कौनसा यथार्थ चिन्तन नहीं है ?

A
अभिसारी या मूर्त निगमनात्मक चिन्तन
B
आलोचनात्मक विश्लेषणात्मक चिन्तन
C
स्वली चिन्तन
D
अपसारी या अमूर्त आगमनात्मक चिन्तन
Question 10 Explanation: 
चिंतन के दो प्रकार होते हैं:- (1) स्वली चिंतन (2) यथार्थ चिंतन – यथार्थ में क्रमश: अभिसारी, अपसारी तथा आलोचनात्मक विश्लेषणात्मक चिंतन होते हैं
Once you are finished, click the button below. Any items you have not completed will be marked incorrect. Get Results
There are 10 questions to complete.

Quiz 1  | Quiz 2 | Quiz 3 | Quiz 4 | Quiz 5 | Quiz 6 | Quiz 7 | Quiz 8 | Quiz 9 | Quiz  10 | Quiz 11 | Quiz 12 | Quiz 13 | Quiz 14 | Quiz 15 |Quiz 16 |Quiz 17 |Quiz 18 |Quiz 19 |Quiz 20 |

Other Post

Rajasthan GK

India GK